टिम्बर की किल्लत से यमुनानगर में हाहाकार, सप्ताह में दो दिन फैक्टरी नहीं चलाने का फैसला

person access_time   3 Min Read

टिम्बर की कमी को देखते हुए, हरियाणा प्लाइवुड मैन्यूफैक्चरर्स एसोसिएशन ने अप्रैल महीने से सप्ताह में दो दिन यानी शनिवार व रविवार को अपनी फैक्टरी का ब्यालर बंद करने का निर्णय लिया है। एचपीएमए की बैठक में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया है। एसोसिएशन के प्रेसिडेंट श्री जे के बिहानी ने प्लाई रिपोर्टर को बताया कि यमुनानगर की प्लाई इंडस्ट्री को टिम्बर की भारी कमी झेलनी पड़ रही है, और आवक कम होने से टिम्बर के रेट आसमान छू रहें हैं। उन्होने बताया कि टिम्बर की आवक आधी रह गई है, और पोपलर और सफेदा के रेट अब तक के सबसे उच्चतम स्तर पर पहुंच गए है।

गौरतलब है कि यमुनानगर व जगाधरी के लक्कड़ मंडी में हरियाणा, उत्तरप्रदेश व पंजाब से हर रोज तकरीबन 600 से 700 टिम्बर की ट्रॉली आती है, जिसकी मात्रा आजकल घटकर आधी से कम रह गई है। टिम्बर आढ़तियों को कहना है कि पोपलर की उपलब्धता खेतो में कम हो गई हैं, और इसकी आवक 2 साल तक कम ही रहने वाली हैं, हालांकि अच्छा रेट मिलने से किसानों ने पिछले दो साल से पोपलर का काफी प्लांटेशन किया है। आढ़तियांे का ये भी कहना है कि फसल कटाई के चलते हर साल इस सीजन में टिम्बर की आवक कम हो जाती है, हालांकि इस साल आवक पहले से ज्यादा प्रभावित हुई हैं। उनका ये भी मानना है कि टिम्बर की आवक में अगले महीने सुधार जरूर होगा, लेकिन रेट कितना कम होगा, ये नहीं कहा जा सकता है। 

You may also like to read

shareShare article
×
×